Chandigarh science congress (CHASCON 2022) is being held from September 15 to 17, 2022

panjab university

Chandigarh,

Chandigarh science congress (CHASCON 2022) is being held from September 15 to 17, 2022. It is an annual event held by Panjab university in collaboration with CRIKC institutes and this year the theme of the congress is “Towards Holistic Development of Science and Technology through interdisciplinary approach” The congress is open to academic and industry participants and the vice chancellor Prof Raj Kumar has stressed the need for interdisciplinary approach towards scientific development in today’s times and hence the theme.

The Director research and development Panjab University Prof Sudhir Kumar has highlighted the need to celebrate the local contributions and making presentations in regional languages. The coordinator of the program Prof Desh Deepak Singh said that the congress will be an occasion to highlight the recent development in science and technology and development of collaborations.

A unique feature is the holding of exhibition during the conference to give opportunities to industry, institutions, start ups, etc. to show case their technology. More information is available on the congress website (https://chascon.puchd.ac.in/)

  • 10वां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया
    पंचकूला, 21 जून – उपायुक्त डा. यश गर्ग के मार्गदर्शन में आज राजकीय महाविद्यालय कालका की प्राचार्या प्रोमिला मालिक के कुशल नेतृत्व में ‘योग क्लब’ , एनसीसी यूनिट (बॉयस & गर्ल्स), एनएसएस (बॉयस & गर्ल्स) तथा सेलिब्रेशन ऑफ डेज़ कमेटी के संयुक्त तत्त्वाधान में 10वां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। इसमें योग प्रशिक्षक जगदीप ने विभिन्न आसनों का अभ्यास करवाया, जिनमें सूर्य नमस्कार, भुजंगासन, धनुरासन, वृक्षासन, सर्वांगासन , शवासन, पद्मासन, त्रिकोणासन, ताडा़सन व प्राणायाम विशेष है।प्राचार्या प्रोमिला मलिक ने विद्यार्थियों को बताया कि 21 जून को मनाया जाने वाला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस उस भौतिक और आध्यात्मिक शक्ति का जश्न मनाता है जिसे योग विश्व पटल पर लाया है। योग हमारी दिनचर्या का वो महत्त्वपूर्ण हिस्सा है, जो हमारे शरीर, मन व आत्मा को एक लय में लाता है; जो सदियों से मौजूद है। पूरे विश्व में इस पवित्र अवसर को जश्न के रूप में मनाया जाता है। इस बार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की थीम ‘स्वयं और समाज के लिए योग’ है। भारत सरकार की इस मुहिम का उद्देश्य देश के नागरिकों को स्वस्थ और फिट रहने के लिए प्रोत्साहित करना है। इस अवसर पर महाविद्यालय के टीचिंग तथा नॉन टीचिंग स्टाफ , राष्ट्रीय सेवा योजना के विद्यार्थियों, योग क्लब के …
  • 41.87 करोड़ से 54 सड़कों को चाक-चौबंद करेगा पीएमडीए
    41.87 करोड़ से 54 सड़कों को चाक-चौबंद करेगा पीएमडीएज्ञान चंद गुप्ता ने प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर लिया जायजासेक्टर 32 में 13.75 एकड़ पर शूटिंग रेंज विकसित करने की योजनासड़क किनारे फुटपाथ, और हरियाली विकसित करने के भी दिए निर्देशशहर के दोनों प्रमुख नालों का सौंदर्यीकरण भी जल्द होगापंचकूला, 19 जूनहरियाणा विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने बुधवार को पंचकूला महानगर विकास प्राधिकरण के विकास कार्यों का जायजा लेने के लिए प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान सेक्टर 23 को सेक्टर 3/21 से जोड़ने के लिए घग्गर नदी पर 25 करोड़ रुपये की लागत वाले दूसरे पुल समेत तमाम बड़ी परियोजनाओं पर चर्चा हुई। नगर निगम और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की ओर से पीएमडीए को सौंपी गईं 54 सड़कों की मरम्मत को लेकर विस्तार से ब्योरा लिया गया। इनमें से 18.64 करोड़ के कार्यों के लिए प्रशासनिक मंजूरी मिल चुकी है। वहीं 23 करोड़ 23 लाख के लिए अनुमान तैयार हो चुके हैं। शहर के सेक्टर 32 में 13.75 एकड़ पर शूटिंग रेंज भी जल्द विकसित करने की योजना है।पीएमडीए ने 54 में से 2 सड़कों का काम पूरा कर लिया है। 5 का कार्य प्रगति पर है। 11 के टेंडर …
  • MC Chandigarh gears up for upcoming monsoon season
    MC Chandigarh gears up for upcoming monsoon season Commissioner reviews comprehensive flood preparedness plan with engineers Chandigarh, June 18:- In a bid to ensure the safety and well-being of residents during the upcoming monsoon season, the Municipal Corporation Chandigarh has geared up to implement comprehensive flood preparedness plan. Municipal Commissioner Ms. Anindita Mitra, IAS, reviewed detailed flood preparedness plan here today with MCC’s senior officials and engineers of Public Health wing, B & R wing, Department of Health (MOH), Horticulture wing, Fire & Rescue Services and the Electrical Department to coordinate proactive measures aimed at mitigating potential risks and ensuring public safety. She emphasized that these departmental collaborative efforts underscore MCC’s commitment to prioritizing public safety during the monsoon season. The meeting discussed detailed plans on pre-monsoon cleaning and maintenance, the formation of Special Response Teams, 24/7 control rooms, and dedicated flood control phone numbers for further implementation. The Commissioner further elaborated that to ensure proper drainage during the monsoon, MCC is undertaking the task of cleaning approximately 30,000 road gullies and storm water drains citywide, with a target completion date of June 20, 2024. Additionally, eighteen dedicated Special Response Teams (SRTs) have been constituted, comprising personnel from various departments. …
  • प्रश्न – नित्य कल्याण प्राप्त करने का उपाय क्या है ?
    *श्रील प्रभुपाद उपदेशामृत* *प्रश्न – नित्य कल्याण प्राप्त करने का उपाय क्या है ?*      भगवद् भक्तों की शुभ आकांक्षा होती है कि लोग अकल्याण के मार्ग पर न चलें, बल्कि सभी कल्याण के मार्ग पर चलें। उस नित्य कल्याण का उपाय है-कृष्ण के प्रिय श्रीगुरुदेव के चरणों में आत्मसमर्पण। जिनके चरणकमलों की सेवा प्राप्त करने से कृष्ण की सेवा प्राप्त होती है, श्रीरूप गोस्वामी से अभिन्न उन गुरुदेव की सेवा दृढ़ विश्वास और प्रीतिपूर्वक करनी चाहिए तथा हरिभजन के विषय में उनके श्रीमुख से सुनना चाहिए । श्रीगुरुदेव की चरणधूलि प्राप्त होने पर भुवन-मंगल कृष्ण की माधुर्यमय सेवा प्राप्त की जा सकती है । इसलिए श्रीगुरुदेव के चरणकमलों का नित्यकाल भजन करना चाहिए । श्रीगुरुदेव अप्राकृत जगत् के निवासी हैं, इस जड़-जगत् के नहीं ।   वे अनित्य वस्तु अथवा रक्त एवं मांस के पिंड नहीं हैं। उनका स्वरूप भी भगवान के समान ही सच्चिदानन्दमय है। श्रीगुरुपादपद्म नर- ब्रह्म हैं, साधारण नर नहीं हैं। जो भगवान एवं गुरु को जगत् की वस्तु मानते हैं, वे कदापि सेवा नहीं कर सकते और यदि करते भी हैं तो वह अपना स्वार्थ पूरा करने के लिए एक ढोंग मात्र है। वह शुद्ध सेवा नहीं है, उसको बनिया वृत्ति कहते हैं। जीव जब …
  • 𝗦𝗽𝗶𝗿𝗶𝘁𝘂𝗮𝗹 𝗹𝗶𝗳𝗲 – 𝗮 𝗼𝗻𝗲 𝘄𝗮𝘆 𝘁𝗶𝗰𝗸𝗲𝘁
    𝗦𝗽𝗶𝗿𝗶𝘁𝘂𝗮𝗹 𝗹𝗶𝗳𝗲 – 𝗮 𝗼𝗻𝗲 𝘄𝗮𝘆 𝘁𝗶𝗰𝗸𝗲𝘁 One should not approach the Spiritual Master “cutting a return ticket”. Our Srila Prabhupad used to always say, “You have come here cutting a return ticket.” We must not approach the spiritual master with that attitude. Rather, we should think that we have seen everything, that we have full experience of this mortal world, and that we have nothing to aspire after here. With this clear consciousness, we should approach the Guru. That is the only way for us to live. This world is mortal. There is no means, no possibility of living here, and yet the will to live is an innate tendency everywhere. “I only want to live and save myself. I am running to the real shelter.” With this earnestness, the disciple will bring his spiritual master the necessary materials for sacrifice. He won’t go to his spiritual master only to trouble the Guru but will approach him with his own necessities already supplied. He will go there with his own bed and baggage. Not that he will show some kindness to the spiritual master and give him name and fame by becoming his disciple.” Srila Bhakti Rakshak Sridhar Goswami …