Minority students can apply till September 30 to get stipend under centrally sponsored schemes : Dr. Baljit Kaur

Chandigarh, August 8

To avail Centrally Sponsored Pre-Matric, Post-Matric and Merit Cum Means Based Scholarship Schemes disbursed by the Department of Social Justice, Empowerment and Minorities, students from the minority sections can apply till 30th September 2022. 

Stating this here today, Minister of Social Justice, Empowerment and Minorities  Dr. Baljit Kaur said  the department is continuously working for the welfare of the needy and economically weak people of the state. It is under this mission that pre-matric, post-matric and merit-cum-means scholarship for the minority class are being given. 

Dr. Baljit Kaur informed that during the academic year 2021-22, 5,03,179 students have been benefited by scholarship under the pre-matric scholarship scheme, 55,430 students under the post-matric scholarship scheme and 1716 students under the merit cum means scholarship scheme. The Ministry of Minorities, Government of India has opened the National Scholarship Portal for all the States on 20th July 2022 to provide the benefit of these schemes to the students during the current year 2022-23. 

Students can apply online till 30 September 2022 for pre-matric scholarship scheme and online till 31 October 2022 for post matric scholarship scheme, merit-cum-means based scholarship. To avail this scheme, the student should belong to minority community (Sikh, Muslim, Buddhist, Parsi, Jain and Christian), income limit for pre-matric scholarship is Rs.1.00 lakh per annum, income limit is Rs.2.00 lakh for post-matric scholarship and merit-com – Income limit for all means is Rs 2.50 lakh. Under this scheme one can apply on the National Scholarship portal www.scholarships.gov.in and for more information visit the site link www.minorityaffairs.gov.in or mobile app-National Scholarship (NSP). Apart from this information can be obtained on helpline number 1800-11-2001 (toll free).

  • Executive Committee Meeting of FOSWAC  held  
    Chandigarh  The Executive Committee Meeting of FOSWAC (Federation of Sectors Welfare Association Chandigarh) was held at “People Convention Centre” sector 36  Chandigarh on Sunday 31 st March 2024 under the chairmanship of Sh.  Baljinder Singh Bittu. It was attended overwhelmingly by sixty federating members of RWAs.    The General secretary welcomed the participants. The newly elected Presidents Dr Cheema and   Amardeep Singh as President of RWAs sectors  34 and sector 39 respectively were congratulated. Addressing the members Baljinder Singh Bittu Chairman FOSWAC raised the issue of Community Centres. He said “community centers are not for  community” Residents are not allowed to even enter the community centres  specially after their renovation, where crores of public money are spent. The Municipal Corporation has converted these community centres into Marriage  Palaces. There are community rooms for Yoga, reading, Gymnasiums, Badminton courts etc. but residents are not allowed to use them. Earlier all  such facilities were available to the residents. In the name of Election Code even the paid bookings are cancelled. About the water tariff and free parking charges, he said that the Municipal Corporation and the Administration has imposed many Taxes on the residents  and they are required to pay more in the …
  • फिजियो कनेक्ट 4 में पवन बंसल ने डॉक्टरों को किया सम्मानित
    फिजियोथेरेपिस्ट्स की नेशनल कांफ्रेंस में पवन बंसल ने क्लिनिकल एक्सीलेंस अवार्ड किये वितरित चंडीगढ़ ,  शहर के पूर्व सांसद व वरिष्ठ कांग्रेस नेता पवन बंसल ने ला ऑडिटोरियम में आयोजित  फिजियो कनेक्ट 4 अवॉर्ड  सेरेमनी में विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत की व चयनित  फिजियोथैरेपिस्ट्स को अवॉर्ड से नवाजा ।  पवन बंसल ने कहा कि  फिजियोथेरेपिस्ट की भूमिका को भारत के स्पोर्ट्स परिदृश्य में विशिष्ट स्थान प्राप्त है। आज के आधुनिक भारत में स्पोर्ट्स इंजरी एक बहुत ही आम समस्या है, लेकिन आम लोग इसके लिए फिज़ियोथैरेपी लेने से परहेज़ करते है, जबकि फिजियोथैरेपिस्ट्स ने नई से नई टेक्नोलॉजी ईजाद कर लाखों लोगों को उनकी परेशानियों से निजात दिलाई है। खिलाड़ियों को अपने खेल में वापस लाने की क्षमता भी फिजियोथैरेपिस्ट्स में जिसके नतीजे वह काबिलेतारीफ हैं ।  इस समारोह में देशभर से जाने माने फिजियोथैरेपिस्ट एकत्र हुए थे जिनमें से समाज में विशिष्ट योगदान देने वालों को सम्मानित किया गया।
  • काग़ज़ी विकास का कब तक ढोल पीटेगी भाजपा, जनता हक़ीक़त से है भली-भांति वाकिफ- पवन बंसल
    चंडीगढ़ शहर के पूर्व सांसद और वरिष्ठ कांग्रेस नेता पवन कुमार बंसल ने जीएमसीएच 32 में चल रहे प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को भाजपा की जालसाज़ी बताया है। पवन बंसल ने कहा कि भाजपा को सिर्फ काग़ज़ी विकास ही करना आता है। ज़मीनी स्तर पर जनता के लिए कोई काम भाजपा ने किया ही नहीं। “चंडीगढ़ को डिस्पेंसरियों से लेकर छोटे-बड़े सभी तरह के अस्पतालों की सुविधाएँ कांग्रेस के वक्त ही मिल गई थी, जिनमें लोगों को घर के पास ही स्वास्थ्य सेवाएँ मिल जाती थी, लेकिन भाजपा ने इन डिस्पेंसरियों का नाम बदल कर आयुष्मान भारत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर कर दिया और सिर्फ बाहर से रंग बदल कर इसे अपनी स्कीम के तौर पर प्रचार कर दिया, जबकि सुविधाएँ ज़रूरत के हिसाब से बढ़ाई ही नहीं गई। काग़ज़ों में ऐसे 15 सेंटर दिखाए गए, जिनमें से एक तो जीएमसीएच 32 के प्रशिक्षण केंद्र में ही चल रहा है। जबकि मेडिकल कॉलेज में सामुदायिक चिकित्सा विभाग के डॉक्टर पहले से ही ओपीडी चला रहे थे। ये है भाजपा का काग़ज़ी विकास, जहाँ जनता के लिए सहूलत है ही नहीं।”
  • The University School of Law, Sri Guru Granth Sahib World University holds  Seminar   on  ‘International Women’s day’
    Sri Guru Granth Sahib World University   holds  Seminar   on  ‘International Women’s day’  Chandigarh  , March 19  The University School of Law, Sri Guru Granth Sahib World University, Fatehgarh Sahib organized ‘International Women’s day’ on 13 March 2024, under the patronage of the Vice Chancellor Dr. Pritpal Singh. The Event was attended by all the students and Faculty Members of the Department and was graced by the presence of the esteemed guest and senior members of the University. Dr. Sunaina Assistant Professor, formally, Welcome the dignitaries present on the occasion and spoke briefly on the theme of the event. Dr. Param Jeet Singh Convener and Head of the Department elaborated the theme on the Women’s day i.e. “Inclusive Inclusion”. He referred to the Hindu Succession Act, 2005, Uniform Civil Code and the change of position for the married women in the year 2010 on Adoption laws. The Key-note Speaker Madam Parmjit Kaur Landran, Member SGPC, focused on the various achievements of the women and highlighted about their rights. She stressed that Education should be imparted to all the women and then only their problems would be redressed which are based upon ground realities. She specifically referred to vishaka’s case and pointed …
  • बंडारू दत्तात्रेय से डा.   कृष्णा एम. एला ने शिष्टाचार मुलाकात की
    चंडीगढ़, , 08 मार्च – हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय से राजभवन हरियाणा में भारत के महान वैज्ञानिक एवं भारत बायोटेक के कार्यकारी अध्यक्ष डा.   कृष्णा एम. एला और उनकी धर्मपत्नी श्रीमती सुचित्रा के. एला, भारत बायोटेक की प्रबंध निदेशक ने शिष्टाचार मुलाकात की। श्री बंडारू दत्तात्रेय ने श्री कृष्णा एम.  एला एवं श्रीमती सुचित्रा के. एला को शाल उढ़ाकर तथा भगवान श्री कृष्ण की मूर्ति भेंट कर उनका स्वागत एवं अभिनंदन किया। श्री बंडारू दत्तात्रेय ने दोनों वैज्ञानिकों की प्रसंशा करते हुए कहा कि आप दोनों ने तथा भारत बायोटेक के सभी वैज्ञानिकों के साथ-साथ देश के अन्य वैज्ञानिकों की कड़ी मेहनत से ही देश को पहली भारतीय वैक्सीन प्राप्त हो सकी। आपने बेहद ही कठिन परिस्तिथियों का सामना कर कोवाक्सिन का आविष्कार किया तथा देश को कोरोना जैसी गंभीर महामारी से बचाया। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक आने वाले कल के अग्रदूत हैं, जो अपने समर्पण, रचनात्मकता और ज्ञान की निरंतर खोज के माध्यम से भविष्य को आकार दे रहे हैं। चिकित्सा के क्षेत्र में, वैज्ञानिक बीमारियों के नए उपचार और इलाज खोजने, स्वास्थ्य देखभाल में सुधार करने और जीवन बचाने के लिए अथक प्रयास करते हैं, जोकि हम सब के लिए गर्व की बात है। राज्यपाल हरियाणा …